प्याज खाने के लाभ, औषधीय गुण एवं इसके शारीरिक फायदे 

आपने सुना ही होगा कि प्याज के छिलके निकालने से क्या फायदा परंतु शायद कम ही लोग जानते हैं कि प्याज के इन्हीं छिलकों में स्वास्थ्य और स्वाद का खजाना छिपा हुआ है। दिखने में साधारण-सा प्याज एक बेहतरीन सब्जी भी है और एक बेजोड़ औषधि भी, प्याज को दूसरों शब्दों में हम एक जमीनी कली भी कह सकते हैं। इसकी ऊपरी हरी और नीचे की सफेद गुलाबी-मांसल दोनों प्रकार की पत्तियाँ बड़े चाव से खाई जाती हैं। आलू के बाद सबसे ज्यादा खाई जाने वाली सब्जी है प्याज।

प्याज में केलिसिन और रायबोफ्लेविन (विटामिन बी) पर्याप्त मात्रा में होता है। इसमें 11 प्रतिशत कार्बोहाइड्रेट होता है और इसकी गंध एन-प्रोपाइल-डाय सल्फाइड के कारण आती है। यह पदार्थ पानी में घुलनशील अमीनों अम्लों पर एन्जाइम की क्रिया के कारण बनता है। यही कारण है कि प्याज को काटने पर ही आँसू आते हैं। हम प्याज का सलाद एवं सब्जी के रूप में तो उपयोग करते ही हैं, यह एक बेहतरीन औषधि भी है।

प्याज के गुणकारी लाभ :-

 

1.)  लू लगने पर:- गर्मियों में लू लग जाना एक आम बात है लेकिन, अगर आप कच्ची प्याज खाती हैं तो आपको लू नहीं लगेगी. लू लगने पर प्याज का रस पीने से फायदा होता है। आपने बड़े-बुजुर्गों को ये कहते भी सुना होगा कि प्याज का टुकड़ा साथ रखने से लू नहीं लगती है।

2.) गठिया के इलाज में:- अगर आपके घर में किसी को गठिया या जोड़ो का दर्द है तो प्याज के रस की मालिश करने से आराम मिलेगा. प्याज के रस को सरसों के तेल में मिलाकर मालिश करने से आराम मिलता है।

 

3.) प्याज के रस को सरसों के तेल में मिलाकर दो महीनों तक लगातार जोड़ो पर मालिश करने से जोड़ो के दर्द और आमवात में आराम मिलता है।

4.) प्याज के रस में मिश्री मिलाकर चाटने से कफ की समस्या से जल्द ही निजात मिलता है।

5.) गर्मियों में सर में दर्द होने पर प्याज के सफेद कंद को तोड़कर सूंघने से जल्द ही आराम मिलता है। मसूड़ो में सूजन और दांत मैं दर्द होने की दशा में प्याज के रस और नमक का मिश्रण लगाने से दर्द में राहत मिलती है ।

6.) बालों के लिए –बाल गिरने की समस्या से निजात पाने के लिए प्याज बहुत ही असरकारी है। गिरते हुए बालों के स्थान पर प्याज का रस रगडने से बाल गिरना बंद हो जाएंगे। इसके अलावा बालों का लेप लगाने पर काले बाल उगने शुरू हो जाते हैं।

 

7.) पथरी के लिए –अगर आपको पथरी की शिकायत है तो प्याज आपके लिए बहुत उपयोगी है। प्याज के रस को चीनी में मिलाकर शरबत बनाकर पीने से पथरी की से निजात मिलता है। प्याज का रस सुबह खाली पेट पीने से पथरी अपने-आप कटकर प्यास के रास्ते से बाहर निकल जाती है।

8.) पायरिया की समस्या है तो प्याज के टुकड़ों को गर्म करके दांतों के नीचे दबाकर मुंह बंद कर लें। ऐसा करने से आपके मुंह में लार एकत्रित हो जाएगी। उसे कुछ देर मुंह में रखने के बाद बाहर निकाल दें। ऐसा दिन में 4-5 बार करने से पायरिया की समस्या समाप्त हो जाती है।

 

9.) डायबिटीज रोगियों को भोजन के साथ कच्चा प्याज खाना चाहिए। प्याज खाने से शरीर में इंसुलिन का स्तर सामान्य हो जाता है।

10.) प्याज कैंसर सेल को बढ़ने से रोकता है। इसमें सल्फर तत्व अधिक मात्रा में होते हैं। यह सल्फर पेट, कोलोन, ब्रेस्ट, फेफड़े और प्रोस्टेट कैंसर से बचाता है।

प्याज को हम आम तौर पर खाना बनाने और सलाद में खाने  के तौर पर प्रयोग करते हैं। खाने में प्याज न सिर्फ खाने का स्वाद बढ़ देती है, बल्कि यह हमें अनजाने में ही बहुत से फायदे भी पहुंचाती है। दरअसल बहुत से विटामिन्स, मिनरल्स और अन्य पोषक तत्वों से भरपूर प्याज एंटीबायोटिक और एंटीसेप्टिक गुणों से भरपूर खाद्य पदार्थ है। यह हमारी संक्रमण और हानिकारक विषाणुओं से रक्षा करती है।

प्याज के 15 और फ़ायदे-

  1. प्याज में, एंटीबायोटिक, एंटीसेप्टिक, रोगाणुरोधी और वातहर गुण मौजूद होते हैं और प्याज के यही गुण हमारे शरीर को हानिकारक रोगाणुओं, विषाणुओं, और संक्रमण से दूर रख सकते हैं।

  2. वसा रहित प्याज, में सल्फर, फाइबर, पोटेशियम, कैल्शियम, विटामिन बी और विटामिन सी भरपूर  मात्रा में पाए जाते हैं।

  3. प्याज के सेवन से शरीर की रोग प्रति रोधक क्षमता बढ़ती है।

  4. नाक से नकसीर आ रही हो तो प्याज के छोटे टुकड़े को काट कर सूंघ लेने से कुछ ही देर में नकसीर रुक जाती है।

  5. जिन व्यक्तियों को रात में नींद न आने (इंसोमेनिया या स्लीपिंग डिसऑर्डर) की समस्या हो उनके लिए भी प्याज का सेवन फायदेमंद होता है।

  6. प्याज हमारे पाचन के लिए भी अच्छी होती है। प्याज पैंक्रियाज में पाचक जूस को बनने के लिए प्रेरित करती है और इससे शरीर में आहार का पाचन आसानी से हो जाता है।

  7. शरीर के किसी भी हिस्से के जल जाने पर प्याज का रस लगाने से आराम मिलता है।

  8. किसी भी प्रकार के कीड़े के काटे जाने पर प्याज का टुकड़ा रगड़ने से राहत मिलती है और प्याज का रस कीड़े के जहर के असर को कम कर देता है।

  9. प्याज के सेवन से ऑस्टियोपोरोसिस और अथेरोस्क्लेरोसिस होने की आशंका कम हो जाती है।

  10. डायबिटीज (मधुमेह) के मरीजों के लिए भी यह फायदेमंद होती है। ऐसा इसलिए क्योंकि एक तो यह शरीर में इन्सुलिन को प्रेरित करती है और दूसरा रक्त में शर्करा को भी नियंत्रित करती है।

  11. कोलेस्ट्रॉल की समस्या वाले लोगों के लिए भी प्याज फायदेमंद है। साथ ही रोजाना सलाद के रूप में प्याज का सेवन धमनी रोग और हृदय रोग होने की आशंका को कम कर देता है।

  12. प्याज के सेवन से, अर्थराइटिस (गठिया) में होने वाली सूजन में भी राहत मिलती है। सरसों के तेल में प्याज को भून कर यदि शरीर में किसी भी हिस्से में होने वाले दर्द पर लगाया जाये तो इससे दर्द में रहत मिलती है।

  13. हल्दी और प्याज के रस को एक साथ मिलाकर लगाने से चेहरे से दाग-धब्बे कम होने लगते हैं।

  14. आँखों की कई समस्याओं में भी प्याज का रस बहुत फायदेमंद होता है और इसीलिए प्राकर्तिक तौर पर आँखों के लिए तैयार की जाने वाली दवाओं में भी प्रयोग किया जाता है। प्याज दांतों में होने वाले दर्द और टूथ डीकेय में भी फायदेमंद मानी जाती है।

  15. प्याज में भरपूर मात्रा में सल्फर पाया जाता है और सल्फर बालों की बढ़ोत्तरी में फायदेमंद है। प्याज को बालों को झड़ने से रोकने के लिए प्राचीन काल से प्रयोग किया जाता रहा है।